आरा पहुंचे रेल मंत्री ने पूरी की लोगों की पुरानी मांग, अब इस गाड़ी का होगा ठहराव

गोयल ने कहा कि पूर्वी और उत्तर पूर्वी भारत के विकास के लिए केंद्र सरकार प्रयासरत है. सरकार ये नहीं चाहती कि सिर्फ दक्षिण भारत का ही विकास हो.

आरा – रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को आरा में आरा-सासाराम रेलखंड पर विद्युतीकरण एवं आरा जंक्शन सहित चार स्टेशनों पर उपरिगामी पैदल पुलों का शिलान्यास किया. इस मौके पर उनके साथ बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी, केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे और केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री एवम स्थानीय सांसद आरके सिंह भी उपस्थित थे.

आरा स्टेशन पर आयोजित इस समारोह में रेल मंत्री ने स्थानीय सांसद आरके सिंह के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि आनेवाले दिनों में हर घर में बिजली पहुंचेगी. रेल परियोजना के बारे में लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि एक बार विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो जाने पर आप सभी को बहुत ही लाभ होने वाला है.

ज्यादा से ज्यादा ट्रेनों का परिचालन आरा-सासाराम रूट पर किया जा सकेगा. अगले साल इलाहाबाद में हो रहे बड़े आयोजन को लेकर रेल मंत्री ने सांसद के आग्रह को स्वीकार करते हुए आरा स्टेशन पर हावड़ा-हरिद्वार सुपरफास्ट ट्रेन के ठहराव का निर्णय खुले मंच से किया.

गोयल ने कहा कि पूर्वी और उत्तर पूर्वी भारत के विकास के लिए केंद्र सरकार प्रयासरत है. सरकार ये नहीं चाहती कि सिर्फ दक्षिण भारत का ही विकास हो. सांसद आरके सिंह ने कहा कि आरा से पटना जाने के क्रम में लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता था. एक ही सवारी गाड़ी होने के कारण यात्रियों को बैठने में काफी दिक्कत होती थी.

उन्होंने रेल मंत्री से कहा कि दो जगहों पर आरओबी की अभी भी हमें जरूरत है. सांसद ने कुछ विशेष रेलगाड़ियों के आरा स्टेशन पर ठहराव की भी मांग की जिससे कि लोगों को पटना जाकर यात्रा के लिये ट्रेन पर सवार होने की कोई जरूरत नहीं हो. मौके पर कई सासंद, विधायक और विधान पार्षद भी मौजूद थे.
PRESS RELEASE BY ECR

ARA: Railway minister Piyush Goyal laid the foundation stone of the electrification of the 97 km Ara-Sasaram rail route on Sunday. The plan for the electrification of the route was approved in 2017-18 at an expenditure of Rs 91.29 crore.

The minister also laid the foundation for a foot overbridge at Ara, Kulhariya, Koilwar and Karisath stations. Throwing light on the significance of the project, Goyal said, “The electrification of Ara-Sasaram rail route will not help to minimise the time consumed in travelling from Ara to Sasaram , it will also lessen the distance between Patna and Sasaram.”

Goyal also announced the stoppage of Kumbh Express (Howrah-Haridwar Express) at Ara station and said it will be an advantage for pilgrims who wish to take a holy dip at the Kumbh.

“Various railway projects worth Rs 40-50,000 crore is being implemented in Bihar. Moreover, students of Bihar will be immensely benefitted as the railway ministry has advertised vacancies for about 1.25 lakh group D and assistant loco pilot posts. The ministry has also announced relaxation in age and fee for the railway job aspirants on the advice of Ara MP RK Singh,” said the railway minister.

Both Goyal and the Ara MP said that soon Ara station will get a new platform with lift and escalator facilities. A washing pit and maintenance facility will be also provided.

The railway minster was accompanied by the Union minster Ashwini Kumar Choubey besides deputy CM Sushil Kumar Modi , Sasaram MP Chhedi Paswan , ECR GM LC Trivedi and DRM, Danapur rail division , Ranjan Prakash Thakur.

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail