एल्गिन ब्रिज के नए पुल पर ट्रेन चलना शुरू

रामनगर (बाराबंकी ): आखिरकार प्रदेश की राजधानी से लखनऊ से पूर्वाचल का रेल सफर आसान हो गया। रविवार को पूर्वोत्तर रेलवे के बाराबंकी-गोंडा रेलखंड के चौकाघाट स्टेशन से घाघरा नदी पर निर्मित दूसरे नए रेलवे पुल पर ट्रेन चलाकर पुल का लोकार्पण किया गया।

रविवार को दोपहर बाद पुल पर ट्रेन चलाकर शुरुआत की गई। उदघाटन मौके पर चीफ इंजीनियर निर्माण डीके सिंह, डिप्टी चीफ इंजीनियर संदीप कुमार, अधिशाषी अभियंता निर्माण दीपक कुमार, पूर्वोत्तर रेलवे के सीनियर सेक्शन इंजीनियर निर्माण भीम सिंह सहित रेलवे के अधिकारियों की मौजूदगी में लोकार्पण किया गया। अधिकारियों के अनुसार अप व डाउन की दोनो ट्रेनों का संचालन पुल से करा दिया गया है।

अब बढ़ेगी रफ्तार : पूर्वी क्षेत्र के विभिन्न प्रांत को जोड़ने वाले बाराबंकी-गोरखपुर रेलखंड के दोहरीकरण के कार्य पूर्ण होने के बाद से इस रेल खंड से ट्रेनों की रफ्तार भी बढ़ जाएगी। दोनो ओर से आने व जाने वाली ट्रेनों को अब एल्गिनब्रिज पर अलग-अलग पुल का लाभ मिलेगा।

यात्रियों को नही आएगी दिक्कत : अब दोहरे रेल ट्रैक के बाद पूर्वाचल के महत्वपूर्ण रेलखंड पर ट्रेनों को को हरे सिग्नल की प्रतीक्षा में घंटों विलंबित नहीं होना पड़ेगा।

दिन भर जुटे रहे अधिकारी : नवीन रेल पुल के शुभारंभ के लिए सुबह से रेल अधिकारी जुटे रहे। इससे करीब चार घंटे तक रेल खंड पर दोनों पुलों पर यातायात को रोका गया। इससे विभिन्न ट्रेनों पर सवार यात्रियों को घंटों दोनों ओर के रेलवे स्टेशनों पर रुकना पड़ा।

काफ समय से थी मांग : भारत के अन्य भागों को पूर्वोत्तर से जोड़ने वाले घाघरा नदी के उपरगामी रेलवे पुल के समानान्तर एक नया पुल चार वर्षो के इंतजार के बाद अस्तित्व में आ सका है। काफी समय से इसके बनाए जाने की मांग की जा रही थी।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail