पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक ने किया आपदा प्रबंधन योजना-2018 का विमोचन

पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री ए.के.गुप्ता द्वारा अपर महाप्रबंधक श्री राहुल जैन एवं अन्य वरिष्ठ रेल अधिकारियों के साथ 11 सितम्बर 2018 को पश्चिम रेलवे क्षेत्रीय आपदा प्रबंधन योजना-2018 का विमोचन किया गया।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री रविंद्र भाकर द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार आपदा प्रबंधन हमेशा तत्परता, क्षति में कमी करने के उपायों एवं प्रतिक्रिया के पहलुओं पर निर्भर करता है। आपदा प्रबंधन योजना राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण तथा रेलवे बोर्ड के दिशा निर्देशों को ध्यान में रखकर तैयार की गई है, जिसमें रेलवे कर्मचारी तथा निकटवर्ती क्षेत्र के स्थानीय निकायों / प्राधिकारियों के प्रथम प्रतिक्रियादाताओं की त्वरित कार्रवाई करने वाली टीम के लिए विशिष्ट डयूटियों को चिन्हित कर इसे इसमें सम्मिलित किया गया है। रेलवे के विभिन्न विभागों के रेलवे अधिकारियों द्वारा त्वरित कार्रवाई के दिशा-निदेंशों को भी इसमें दर्शाया गया है। इस योजना में आपदा जोखिमों को कम करने के उपायों के साथ-साथ आपदा के पश्चात की जाने वाली त्वरित कार्रवाईयों का भी विस्तार से उल्लेख किया गया है। श्री भाकर के अनुसार रेलवे यह आशा करती है कि इस आपदा प्रबंधन योजना के प्रावधानों को उपयोग में लाने की आवश्यकता कभी न पड़े, परन्तु यह आवश्यक है कि हम ऐसी किसी भी स्थिति से निपटने हेतु हमेशा तैयार रहें। इसके सभी पहलुओं के अनुरूप तैयारी से जितना हम खुद को तैयार करेंगे, उतनी ही गुणवत्ता से आपदा से निपटा जा सकता है तथा रेलवे में किसी भी प्रकार की आपदा के दौरान प्रभावशाली बचावकार्य एवं पुनःस्थापन कार्य किया जा सकता है।

Western Railway’s  Zonal Disaster Management Plan-2018  was unveiled by Shri. A.K Gupta  General Manager  of Western railway on 11th September ,2018 in the presence of Additional General Manager Shri Rahul Jain and  other senior officers of WR.

According to Shri Ravinder Bhakar – Chief Public Relations Officer of Western  Rly, the Management of Disaster revolves around Preparedness, Mitigation and Response. The Disaster management Plan has been prepared considering the Guidelines of   National Disaster Management Authority ( NDMA)  and Railway Board which encompass all the requirements by identifying specific duties both for Instant Action Team consisting of railways on board staff and First responders consisting of local Bodies/Authorities from nearby area. Guide lines for immediate action by Railway officials of various departments have been outlined. This Plan brings out the detailed action to be taken as a Disaster Risk Reduction measures apart from the actions to be taken aftermath of a disaster. Shri Bhakar stated that Railways earnestly hope that we may never be required to invoke provisions of this Disaster Management Plan.  Nevertheless it is worth remembering that the move we prepare and drill ourselves in all related aspects, greater are the chances of rendering Quality expeditious and effective rescue and restoration operations during any disaster in railways.

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail