मोबाइल टिकट से यात्रा करने पर 5% का बोनस

रेल कर्मचारियों एवं रेल यात्रियों को मोबाइल टिकट प्राप्त करने की विधि की जानकारी देने हेतु एक कार्यशाला का आयोजन हाजीपुर रेलवे स्टेशन के पुस्तकालय में किया गया जिसमें उप मुख्य वाणिज्य प्रबंधक दिलीप कुमार ने बताया कि मोबाइल ऐप की मदद से अनारक्षित टिकट लेना आसान है और उसके लिए यात्रियों को टिकट काउंटर पर नहीं जाना होगा । इसके अलावा मोबाइल से टिकट लेने पर यात्रियों को 5% का बोनस भी दिया जाएगा जिससे टिकट दर कम हो जाएगा । स्मार्ट फोन से गूगल प्ले स्टोर अथवा विंडोज स्टोर पर जाकर यूटीएस ऑन मोबाइल निःशुल्क ऐप को डाउनलोड करके यात्रियों को अपना पंजीकरण कराना होगा जिसमें पहली बार पहचान पत्र की संख्या भी दर्ज करानी होगी । उसके बाद यात्रियों के पास चार संख्या का पासवर्ड जाएगा जिसका प्रयोग करके रेलवे ऐप पर रजिस्ट्रेशन हो जाएगा और जीरो बैलेंस के साथ आर-वैलेट खुल जाएगा।  इस आर-वैलेट को रूपये 100 से लेकर रूपये 5000 तक से रिचार्ज करना है जिसमें पाँच प्रतिशत का बोनस रेलवे द्वारा दिया जाएगा । फिर यात्री अपनी सुविधा के अनुसार यात्रा करने से पूर्व स्टेशन के 20 मीटर बाहर से और 2 किलोमीटर के दायरे में मोबाइल टिकट खरीद सकते हैं।

यात्रियों को एकल यात्रा टिकट, वापसी यात्रा टिकट, प्लेटफार्म टिकट, मासिक और त्रैमासिक टिकट आदि इस एप के माध्यम से प्रदान किए जाएंगे । यात्री किसी एक रूट का एक साल तक का टिकट भी खरीद सकते हैं । 1 नवंबर 2018 से  भारत के किसी भी स्टेशन से किसी भी स्टेशन तक के लिए  मोबाइल एप के माध्यम से टिकट लिया जा सकता है । कार्यशाला में राजभाषा विभाग के ऐप के बारे में भी विस्तार से जानकारी रेल कर्मियों को दी गई और उनसे अनुरोध किया गया कि सरकारी कामकाज राजभाषा हिंदी में करें जिससे आम लोगों को सहूलियत हो । इस अवसर पर सोनपुर के राजभाषा अधिकारी डॉ सीडी सिंह, मुख्यालय हाजीपुर के राजभाषा अधिकारी अशोक श्रीवास्तव, हाजीपुर के स्टेशन अधीक्षक अभय कुमार, मुख्य टिकट निरीक्षक गिरीश कुमार सिंह, मुख्य वाणिज्य लिपिक संतोष कुमार, रवि कुमार सहित रेलवे के अनेक कर्मचारी उपस्थित रहे।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail