Central Railway gears up with Monsoon Precautions

MUMBAI: Central Railway has geared up with monsoon preparations to ensure smooth and disruption free services during ensuing monsoon. Shri D K Sharma, General Manager, Central Railway had a meeting with Shri Ajoy Mehta, Municipal Commissioner, Greater Mumbai in which various issues such has removal of muck, cleaning culverts and drains, trimming trees, scanning boulders, provision of pumps at locations vulnerable for water logging etc were discussed in detail., Shri S K Agarwal, Principal Chief Engineer, Central Railway,  Shri S K Jain, Divisional Railway Manager, Mumbai Division, Central Railway, Shri Singhal, Additional Municipal Commissioner, Greater Mumbai and other Senior Officials of Central Railway & MCGM were also present during the meeting.

A total of 25 locations were identified which required immediate attention. The prepatory work of monsoon has already been started from February-March 2018. 79 culverts have been cleaned and the work of one additional opening at Tilak Nagar to ease the flooding in Kurla area has been completed. Central Railway has also requested the Municipal Corporation to provide pumps with a capacity of 1000 cubic meters per hour at Kurla & Mukhyadhyapak Nallah at Sion to pump out water. In addition it has also proposed completing the work of Five bridges before the onset of Monsoon.

Discharge of sewage is an important issue with regard to monsoon and this too was discussed in detail. On its part MCGM has assured suitable action in respect of preventing discharge of outside water in railway premises, especially near Sandhurst Road station. It has also promised to get one unsafe building at Sandhurst Road station vacated before the monsoon begins.

The matter of disposal of muck and garbage and prevention of the same in Railway Premises was also discussed.

MCGM’s decision  to provide additional water connection at Lokmanya Tilak Terminus will greatly help Central Railway to tackle the water problem at the Terminus.

The work of monsoon precautions like cleaning of tracks & nallahs is a continues process which will go on till the start of monsoon. One round of inspection has been done by officials of both CR and MCGM and another one is proposed to be done before monsoon.

Shri Sunil Udasi, Chief Public Relations Officer, Central Railway said, “The meeting ended on a positive note with both CR and MCGM agreeing to work hand in hand and co-operate with each other to ensure smooth, safe and better services to the commuters of the city.”

फोटो कैप्शनः  पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री ए. के. गुप्ता तथा मुंबई महानगरपालिका के आयुक्त 18 अप्रैल, 2018 को चर्चगेट स्थित पश्चिम रेलवे के प्रधान कार्यालय में मानसून-पूर्व तैयारियों से सम्बंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करते हुए।

मानसून-पूर्व तैयारियों से सम्बंधित विभिन्न कार्यों की प्रगति की समीक्षा हेतु पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री ए. के. गुप्ता तथा मुंबई महानगरपालिका के आयुक्त श्री अजय मेहता के बीच सम्बंधित अधिकारियों के साथ बुधवार, 18 अप्रैल, 2018 को चर्चगेट स्थित पश्चिम रेलवे प्रधान कार्यालय में एक बैठक सम्पन्न हुई।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री रविंद्र भाकर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार इस बैठक में मुख्यतः स्टॉर्म वॉटर ड्रेन की सफाई, रेलवे ट्रैकों के निकट कूड़ा-करकट डालना, ओवरहैड पाइपलाइनों की शिफ्टिंग, ड्रेनेज पाइपलाइन के क्रॉस सेक्शन को बड़ा करने तथा सड़क ऊपरी पुलों एवं पैदल ऊपरी पुलों सहित रेल भूमि के अतिक्रमण जैसे मुद्दों पर चर्चा की गई। इस बैठक में महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की गई एवं कई अहम निर्णय लिये गये, जो इस प्रकार हैः-

  • नाला सं. 5 :- नाले की गहराई बढ़ाने का कार्य प्रगति पर है एवं 30 अप्रैल, 2018 तक कार्य पूर्ण कर लिया जायेगा। रेलवे सीमा के निकट ड्रेन के क्रॉस सेक्शन को जोड़ने का निर्णय लिया गया है। यह कार्य महानगरपालिका द्वारा रेलवे के पर्यवेक्षण में पूर्ण किया जायेगा।
  • नाला सं. 7 :- इसे गहरा करने का कार्य प्रगति पर है एवं 30 अप्रैल, 2018 तक इसे पूर्ण किया जायेगा। मुंबई महानगरपालिका एवं पश्चिम रेलवे के संयुक्त निरीक्षण के पश्चात सफाई की सुविधा हेतु रेलवे क्षेत्र में एक अतिरिक्त मेनहोल उपलब्ध कराया जायेगा।
  • नाला सं. 12 (ए):-  लगभग 30 मी. लम्बाई की बंद पड़ी सीआई पाइपलाइन कठिनाई का एक प्रमुख कारण थी, जिसे ओपन आरसीसी ड्रेन द्वारा बदला जा रहा है, जिससे क्रॉस सेक्शन में 4 गुना बढ़ोतरी होगी एवं प्रवाह बेहतर होगा।

(बी) स्टॉर्म जल निकासी को बेहतर बनाने हेतु रेलवे क्षेत्र में बाउंड्री वॉल के नीचे एक छोटी आर्क को तोड़ने के लिए संयुक्त रूप से चिह्नित किया गया है। कार्य प्रगति पर है।

  • नाला सं. 15 :- पिछले वर्ष के अनुभवों एवं बाढ़ के इतिहास के आधार पर रेलवे ने नाला सं. 15 से धारावी नाला तक एक वैकल्पिक कनेक्शन की आवश्यकता की बात कही थी, जिसके कार्य का निष्पादन मुंबई महानगरपालिका द्वारा किया जा रहा है एवं जिसे 30 अप्रैल, 2018 तक पूर्ण किया जायेगा।
  • महालक्ष्मी के निकट टंकी की सफाई को सहूलियतपूर्ण बनाने हेतु रेलवे क्षेत्र से एक मार्ग उपलब्ध कराने की आवश्यकता है। इसका निर्णय संयुक्त रूप से लिया जायेगा।
  • नाला सं. 24 एवं 24 :-  ये नाले बांद्रा रेलवे कॉलोनी तथा जय भारत सोसायटी के लिए काफी महत्त्वपूर्ण हैं। नालों की सफाई का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। आगे बेहतर सुधार हेतु बंद नाली को जय भारत सोसायटी से नाला सं. 24 से जोड़ते हुए ओपन नाला में परिवर्तित किया जा रहा है तथा यह कार्य 15 मई, 2018 तक पूर्ण किया जायेगा। इसके अतिरिक्त पानी की मेन पाइपलाइन जिससे नाला सं. 24 एवं 24 ए चमरावाड़ी नाला के बहाव में रुकावट आ रही थी, इसे चिह्नित कर मुंबई महानगरपालिका द्वारा इसके ऊँचाई बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है।
  • नाला सं. 25 :- रेलवे क्षेत्र में नाले की चौड़ाई बढ़ाने का कार्य मुंबई महानगरपालिका द्वारा किया जा रहा है, जिसका कार्य प्रगति पर है।
  • नाला सं. 26 :- (हरिजन नाला) रेलवे ने नाले को अवरुद्ध करने वाली पानी की पाइपलाइन एवं अन्य संरचनाओं को हटाने हेतु पहचान सुनिश्चित की है, जिसके लिए मुंबई महानगरपालिका ने सहमति जताई है।
  • नाला सं. 54 :- माइक्रो टनलिंग द्वारा रेलवे नालों को जोड़ने का कार्य प्रगति पर है, जिसके लिए महानगरपालिका के पाइपलाइनों को शिफ्ट करने तथा दो पेड़ काटे जाने की आवश्यकता है। इस पर महानगरपालिका द्वारा आवश्यक सहयोग प्रदान किया जायेगा।
  • रेलवे क्षेत्र में पैदल ऊपरी पुलों की मरम्मत/बदलाव हेतु महानगरपालिका से आवश्यक राशि जमा करने का अनुरोध किया गया, जिसके लिए महानगरपालिका ने सहमति जताई है।
  • पैदल ऊपरी पुल के निर्माण कार्य को पूर्ण करने हेतु महानगरपालिका को पोइसर नाला से अतिक्रमण हटवाने का अनुरोध किया गया है।
Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail